लॉकडाउन में मिला शानदार चुदाई का मजा- 9

जॉब सेक्स हॉट कहानी मेरे जॉब के लिए इन्टरव्यू में ही हुई चुदाई की है. लॉकडाउन में मैं अपनी सहेली के साथ एक ऑफिस में इन्टरव्यू देने गयी तो …

यह कहानी सुनें.

ऑडियो प्लेयर 00:0000:0000:00आवाज बढ़ाने या कम करने के लिए ऊपर/नीचे एरो कुंजी का उपयोग करें।

कहानी के पिछले भाग
भाई की गर्लफ्रेंड की गांड मरवा दी
में आपने पढ़ा कि मेरे पड़ोसी ने कैसे मेरे भाई की जवान गर्लफ्रेंड की गांड मार ली. उसके बाद मैं अपनी जॉब के इन्टरव्यू के लिए गयी.

अब आगे जॉब सेक्स हॉट कहानी:

हम लिविंग रूम में पहुंचे।
बहुत बड़ा रूम, बड़ी स्क्रीन टीवी लगभग 100 इंच लगा था।

उसने कैथी को बुलाया और उससे कहा कि टीवी पर मूवी लगा दे।
कैथी ने टीवी चालू किया और रिमोट रिचर्ड के हाथ में दिया।

रिचर्ड एक बड़े सोफ़े पर बैठ गया और निधि को भी अपने साथ बिठा लिया।
मुझे कहा- बीच में खड़ी रहो और थोड़ा डांस करो।

मैं चुपचाप बीच में खड़ी हो गई।
कैथी जाने लगी तो रिचर्ड ने कैथी को भी अपने साथ बिठा लिया।

अब रिचर्ड ने टीवी पर एक इंग्लिश सोंग चला दिया और मुझे कहा- जैसे टीवी में डांस आये, वैसा डांस करो।

मैंने टीवी की तरफ देखा।
उधर रिचर्ड ने कैथी को किस करना शुरु कर दिया।

टीवी पर एक लड़की उत्तेजित डांस कर रही थी और वो अपना अपना एक एक कपड़ा उतार रही थी।
रिचर्ड ने मुझे देखा और कहा- तुमने अभी तक शुरु नहीं किया।

तब उसने निधि की तरफ देखा।

निधि खड़े होकर मेरे पास आ गई।
उधर मैंने देखा कि रिचर्ड कैथी के चूचों को दबा टी शर्ट के ऊपर से दबा रहा था।

निधि मेरे पास आकर डांस करने लगी और अपनी मिनी उतार दी।
अब वो सिर्फ पैन्टी में थी।

वो मेरे पास आई और मुझे डांस करने को कहा।
फिर मैं भी डांस करने लगी।

तब निधि मेरे पास आई और मेरी शर्ट के बटन खोलने लगी और सारे बटन खोलकर मेरी शर्ट उतार दी।
फिर मेरे पीछे जाकर डांस करते करते मेरी ब्रा खोल दी। मेरे दोनों कबूतर उछलकर बाहर आ गये।

उधर मैंने देखा कैथी की टी शर्ट और जीन्स भी उतर चुकी थी। उसने अंदर कुछ नहीं पहना था और वो पूरी नंगी हो गई थी।

मैंने देखा रिचर्ड ने उसे इशारा किया और वो खड़ी होकर बाहर चली गई।

रिचर्ड उठकर हमारे पास आ गया और डांस करने लगा।
उसने निधि के होंठों पर अपने होंठ रख दिए और उसे किस करने लगा।
निधि भी उसका साथ दे रही थी।

उसने मुंह खोल दिया और रिचर्ड उसकी जीभ चूसने लगा और अपने हाथ से निधि की चूची मसलने लगा।
उसने निधि के होंठ काटने शुरु कर दिये और अपना एक हाथ निधि की पैन्टी में डाल दिया।
निधि उसकी शर्ट उतारने लगी।

रिचर्ड ने नीचे कुछ नहीं पहना था।
क्या बॉडी थी रिचर्ड की!
मैं देखती ही रह गयी।

तब रिचर्ड निधि को छोड़कर मेरे पास आ गया।

उसने मेरे दोनों निप्पल पकड़ लिये और अपनी तरफ खींचा।
मुझे ऐसा लगा मेरे निप्पल अभी टूट जायेंगे।

मैं उसकी तरफ चली गई।
उसने मेरा मुंह पकड़ा और मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए और वो उन्हें चूसने लगा।
मैंने भी उसका साथ देना शुरु कर दिया।

उधर निधि ने मेरी स्कर्ट उतार दी और अपनी पैन्टी भी।
तब रिचर्ड ने मेरी पैन्टी में हाथ डाला और मेरी चूत दबा दी।
निधि ने उसकी पेंट भी उतार दी।

हम तीनों सोफा सेट पर आ गए।
रिचर्ड ने मेरी पैन्टी भी उतार दी। अब हम तीनों पूरी तरह नंगे थे।

मैंने रिचर्ड का लंड देखा। करीब 8 इंच लंबा और एक खीरे के जितना मोटा था।

तभी कैथी वापिस आ गई और उसने रिचर्ड को एक टेबलेट दी और पानी दिया।
रिचर्ड ने वो टेबलेट खा ली।

कैथी ने पानी का ग्लास साइड में रखा और नीचे बैठकर रिचर्ड का लंड चूसने लगी।
उधर निधि ने कैथी के पैर फैलाये और कैथी की चूत में अपना मुंह दे दिया।

तब रिचर्ड ने मुझे इशारा करके बुलाया और मुझे कहा कि मैं अपनी चूत उसके मुंह में दूँ।
मैं उसके मुंह पर चूत खोल कर बैठ गई।

रिचर्ड ने अपनी जीभ मेरी चूत में डाल दी और उसे चूसने लगा।
वो बीच- बीच में मेरी चूत के होंठ भी चूसता और काटता रहता था।

तभी वो उठा और कैथी को सोफ़े पर कुतिया बनाया और पूरी फोर्स से उसकी चूत में अपना लोड़ा डाल दिया।
एक ही बार में उसका लोड़ा कैथी की चूत में पूरा चला गया।

उसने कैथी के चूतड़ पर खींचकर चांटे मारने शुरु कर दिये और कैथी आह आह करने लगी।
तब रिचर्ड ने उसे फुल स्पीड से चोदना शुरु कर दिया।

मैंने कैथी के लटकते चूचों को पकड़ लिया और उन्हें दबाने लगी।
उधर रिचर्ड ने मेरी एक चूची पकड़ ली और उसे जानवरों की तरह दबाने लगा।
मुझे बहुत दर्द हो रहा था पर मैं चुप रही।

निधि ने अपने दोनों पैर खोलकर कैथी के मुंह पर अपनी चूत रख दी। कैथी उसे चाटने लगी।

थोड़ी देर में कैथी चिल्लाई- मेरा हो गया, मेरा पानी निकल गया।
रिचर्ड ने अपनी और स्पीड बढ़ा दी।
फिर एक झटके से अपना लोड़ा उसकी चूत से निकाला और उसकी गांड में ठूंस दिया।

इतना मोटा लंड भी कैथी की गांड में आसानी से घुस गया।

थोड़ी देर बाद रिचर्ड ने अपना लंड कैथी की गांड से निकाला और निधि के बाल पकड़कर अपनी ओर खींचा।
उसने निधि को नीचे बिठाया और अपना लंड उसके मुंह में दे दिया।

उसका लंड पूरा फूला हुआ था।
निधि को बहुत मुश्किल हुई उसे अपने मुंह में लेने में!

उसने निधि का मुंह चोदना शुरू कर दिया।

कैथी सोफ़े पर लेट गई। ये देखकर मैं उसके पास गई और उसके निप्पल चूसने लगी और कभी-कभी उसके निप्पल काट लेती थी।

उधर रिचर्ड ने निधि को सोफ़े पर सीधा लिटाया और उसके दोनों पैर ऊपर की तरफ उठाये और अपना लोड़ा उसकी चूत में डाल दिया।
निधि चिल्लाई- बहनचोद, मेरी चूत फाड़ दी।
रिचर्ड हँसा और निधि की चूत चोदने लगा।

थोड़ी देर में निधि को मजा आने लगा, वो चिल्लाने लगी- फक मी बास्टर्ड, फक मी।

जल्दी ही निधि ने भी अपना पानी छोड़ दिया, वो चिल्लाई- मेरा पानी निकल गया।
तब रिचर्ड ने अपना लोड़ा निकाला और निधि की दोनों पैर पकड़कर उसको उल्टा किया और उसकी गांड खोली और अपना लंड उसके छेद पर टिकाया और धक्का दिया।

पर लंड उसकी चूत में नहीं गया और साइड में खिसक गया।
यह देख मैंने उसका लंड पकड़ा और निधि की गांड पर थूका और रिचर्ड को धक्का मारने का इशारा किया।

रिचर्ड ने धक्का मारा और उसका सुपारा अंदर घुस गया।
निधि चिल्लाई- रिचर्ड मेरी गांड बक्श दो प्लीज!
रिचर्ड ने कहा- ठीक है, तो तपिश का प्रमोशन अभी नहीं!

निधि ने कहा- कोई बात नहीं अगली बार तपिश का प्रमोशन कर देना पर प्लीज अभी छोड़ दो।
तब रिचर्ड ने निधि को छोड़ दिया।

रिचर्ड मेरी तरफ आया और मेरे लंबे बाल पकड़े और मुझे नीचे बिठाया और मेरे मुंह में लंड दिया।
मैंने धीरे-धीरे उसका लंड मुंह में लिया और उसे लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी।

रिचर्ड ने आंख बंद कर ली।
मैं उसका लंड पूरे गले तक ले गई।
रिचर्ड ‘येस … येस’ करने लगा। मैं और जोर से चूसने लगी।

थोड़ी देर में रिचर्ड ने मुझे उठाया और निधि और कैथी को धक्का देकर सोफ़े से नीचे गिरा दिया और मुझे सोफ़े पर सीधा लिटा दिया।

तभी रिचर्ड मेरी छाती पर बैठ गया और अपना लोड़ा मेरे चूचों के बीच में दबा दिया और मेरे चूचों को चोदने लगा।
फिर उसने मुझे चूचों को पकड़ने का इशारा किया।

मैंने अपने चूचों को पकड़ लिया और रिचर्ड उन्हें चोदने लगा।
रिचर्ड ने मेरे सीधे गाल पर एक चांटा मारा।
मुझे दर्द हुआ पर मैं चुप रही।
फ़िर उसने मेरे उल्टे गाल पर चांटा मारा।
मैं फिर भी चुप रही।

अब रिचर्ड ने मेरे चूचों को चोदना बंद कर दिया और मेरे पैरों के बीच में बैठ गया और उसने अपने लोड़े को मेरी चूत पर सेट किया और एक झटके में अपना मोटा लंड मेरी चूत में डाल दिया।
मुझे दर्द तो बहुत हुआ पर मैं सह गयी।

उसने अपना लंड मेरी चूत में अंदर बाहर करना शुरु कर दिया। उसकी गोलियां मेरी गांड से टकरा रही थी। पूरे रूम में छप छाप की आवाजें होने लगी।

मुझे भी मजा आने लगा तो मैं भी आह आह की आवाज करने लगी।
मैं चिल्लाने लगी- फक मी, रिचर्ड, फक मी हार्ड।

यह सुनकर उसने अपनी स्पीड और बढ़ा दी और मेरे चूचों पर चांटा मारा।
मुझे दर्द तो हुआ पर मैं मजा ले रही थी तो मुझे फर्क़ नहीं पड़ा।

अब रिचर्ड कभी एक चूची पर चांटा मारता और कभी दूसरी पर।
मेरी चूची बिल्कुल लाल हो गई।

उधर रिचर्ड ने एक तेज हुंकार भरी और अपना सारा लावा मेरी चूत में भर दिया।
तब मैंने अपने पैर उसकी कमर के चारों और लपेट दिये और अपने चूतड़ उछाल उछाल कर उसे चोदने लगी.

थोड़ी देर में मैंने भी अपना पानी छोड़ दिया. तब मुझे लगा कि रिचर्ड ने भी अपना गर्म गर्म लावा एक बार और मेरी चूत में छोड़ दिया था।
वो मेरे ऊपर ही गिर गया। उसका लंड अभी भी मेरी चूत में था।

थोड़ी देर बाद मैंने उसे पुश करा और साइड में लिटा दिया।

मैं खड़ी हुई तो चूत से पानी निकलकर मेरी जांघ पर आ रहा था।
मुझे शरारत सूझी।

मैंने नीचे पड़ी कैथी को सीधा किया और उसके मुंह पर अपनी चूत खोलकर बैठ गयी। मैंने उसकी नाक बंद की और जब उसने साँस लेने के लिये मुंह खोला तो मैंने जोर का पुश करके अपनी चूत का सारा पानी उसके मुंह में छोड़ दिया।

गाढ़े पानी के साथ-साथ मेरा थोड़ा सू सू भी उसके मुंह में चला गया।
उसने चुपचाप सब पी लिया।

मैं सोफ़े पर रिचर्ड के पास लेट गयी।
उसका लोड़ा बिल्कुल सफेद मेरे और उसके पानी से भरा था। उसका लोड़ा आधा खड़ा था।

मैंने सोचा निधि ने अपनी गांड में नहीं लिया तो रिचर्ड ने तपिश का प्रमोशन रोक दिया।
अगर मैं इसको अपनी गांड में ले लूं तो हो सकता है मेरी जॉब पक्की हो जाए।

ऐसा सोचकर मैंने रिचर्ड का लोड़ा अपने मुंह में ले लिया और उसे चाट कर साफ़ कर दिया और फिर उसे चूसने लगी।
थोड़ी देर में वो फूल कर मोटा और लंबा हो गया।

अब मैं उठी और दोनों पैर रिचर्ड के इधर उधर रख कर उसके लोड़े पर बैठ गई।
उसके लोड़े को अपनी गांड के छेद पर सेट किया और धीरे-धीरे उसे गांड में लेने लगी।

उसका लोड़ा मेरी गांड में थोड़ा ही अंदर गया। मुझे लगा किसी ने मेरी गांड को चाकू से काट दिया।
पर जॉब का सवाल था तो मैं दर्द सह गई।

मैं थोड़ा और नीचे हुई तो वो और अंदर गया।

इस तरह करते करते मैंने रिचर्ड का आधा लंड गांड में ले लिया।
मेरी गांड भी थोड़ा ठीक सेट हो गई।

मैं थोड़ा रुकी और थोड़ी देर में उसके लोड़े पर ऊपर नीचे होने लगी।
रिचर्ड को मजा आने लगा। मुझे भी अब मजा आने लगा।

अब रिचर्ड थोड़ा उठकर बैठ गया। उसने मेरे दोनों कंधों पर अपने हाथ रख दिए और जैसे ही मैं नीचे गई उसने मेरे दोनों कंधों को पूरे जोर से दबा दिया।
मैं नीचे होती चली गई और उसका पूरा लंड मेरी गांड को फाड़ता हुआ मेरे अंदर घुस गया।

मुझे ऐसा लगा किसी ने मेरी गांड में छुरा डाल दिया।
मैं थोड़ी देर ऐसे ही बैठी रही। मेरी आँखों से आंसू आने लगे।

फिर मेरे दिमाग ने कहा कि जब इतना सहा तो थोड़ा और सह ले।
मैं उसके लोड़े पर ऊपर नीचे करने लगी।

रिचर्ड को मजा आने लगा; वो बोला- वट ए फकिंग ऐस। ऐसी ऐस तो कैथी की भी नहीं है।

यह सुनकर मुझे जोश आ गया और मैं और तेजी से उसके लंड पर उछलने लगी।
थोड़ी देर में रिचर्ड चिल्लाया- उफ्फ, यू फकिंग बिच, मैं तुम्हारी गांड अपने पानी से भरने वाला हूं!
और ये कहकर उसने अपना गर्म लावा मेरी गांड में भर दिया।

मैं उसके लोड़े पर से उठी।
मेरी पूरी गांड बुरी तरह दर्द कर रही थी।

निधि ने मेरी गांड देखी और बोली- तेरी गांड पूरी फट गई है और उससे खून निकल रहा है।
रिचर्ड ने देखा और बोला- कोई बात नहीं, पहली बार गांड में लेने से होता है।

मैंने सोचा कि इस बहन के लोड़े को क्या पता, गांड में तो मैंने बहुत लंड लिये हैं पर इतना मोटा कभी नहीं लिया।

फिर रिचर्ड बोला- अंजलि तुम बहुत मेहनती लगती हो … तभी तो निधि ने तो छोड़ दिया था पर तुमने काम पूरा करा। इसलिये तुम आज से ही परमानैंट और तपिश तुम्हें सारा काम सिखायेगा और तुम सिर्फ मुझे रिपोर्ट करोगी।
मैं बहुत खुश हुई, मैंने रिचर्ड को थैंक्स कहा।

तब रिचर्ड ने कैथी को कहा- अंजलि को साफ़ करो और इसकी सिकाई करो।

कैथी उठी और मुझे दूसरे बेडरूम में ले गई और मुझे बाथरूम में ले जाकर गर्म पानी से नहलाने लगी।

मैंने कैथी से पूछा- तुम यहां कैसे आई?
तो कैथी ने बताया- रिचर्ड ने अमेरिका में मुझे ड्रग्स केस में पुलिस से बचाया था और अपने यहां मेड की जॉब देकर मुझे क्यूबा जाने से बचाया। रिचर्ड बहुत दयालु है। चार साल से मैं उसके पास हूं और वो जैसा कहता है मैं करती हूं। वो मुझे पैसे भी देता है और मुझे शॉपिंग भी करने जाने देता है। मैं बहुत खुश हूं अपनी इस लाइफ से! मैं रिचर्ड की सदा आभारी रहूंगी।

मैंने कैथी के होंठ पर होंठ रख दिए और उसे किस करने लगी।
वो भी मेरा साथ देने लगी। वो नीचे आने लगी और उसने मेरे निप्पल चूसने शुरु कर दिये और अपनी एक उंगली मेरी चूत में डाल दी।

फिर वो नीचे गई और मेरी चूत पर अपने होंठ लगाये और उसे चूसने लगी।

उसने मेरा एक पैर अपने कंधे पर रखा और अपनी जीभ मेरी खुली चूत में डाल दी।
अब कभी अपनी जीभ मेरी चूत में डालती कभी मेरी गांड में!
वो बारी बारी से मेरी गांड और चूत चूस रही थी।

थोड़ी देर में मैंने उसका मुंह अपनी चूत के पानी से भिगो दिया।

फिर उसने गर्म पानी से मेरी गांड की लगभग एक घंटा सिकाई करी।
मेरा दर्द बिल्कुल खत्म हो गया।

उसने मुझे एक बाथरोब दिया, वो पहनकर मैं बाहर गई।
मैं ऑफिस में गई तो देखा निधि और रिचर्ड पूरे कपड़े पहन कर बिल्कुल तैयार बैठे थे।

अपने कपड़े उठाकर मैं जाने लगी तो रिचर्ड बोला- यहीं तैयार हो जाओ। अब ऐसा कुछ है नहीं जो मैंने ना देखा हो।

तब मैंने बाथरोब उतारा और वहीं पर अपने कपड़े पहन लिये और अपने बाल ठीक किये और थोड़ा मेकअप लगाया।

जॉब सेक्स के बाद रिचर्ड ने मुझे अपने पास बुलाया और एक पेपर दिया।
मैंने वो पेपर पढ़ा तो वो मेरा ज्वाइनिंग लेटर था जिसमें सैलरी 3000 डॉलर प्लस इन्सेंटिव पर मंथ लिखी थी।
मैं बहुत खुश हुई।

रिचर्ड ने निधि को कहा कि वो तपिश से कहे कि तपिश मुझे काम सिखाये।

उसने मुझे कहा- अंजलि एक चीज याद रखना, अगर ऑफिस के काम में कभी कोई कमी आई तो तुम मेरा जो पर्सनल काम करती हो, तो वो भी तुम्हारी जॉब नहीं बचा पायेगी।
आगे उसने कहा- मैं तुम्हारी पूरी मेहनत चाहता हूं ऑफिस के काम में, नहीं तो मैं तुम्हें कंपनी से बाहर फेंक दूँगा।
मैंने रिचर्ड को ओके कहा।

तभी कैथी भी आ गई।
शाम के 6 बजे थे तो कैथी ने कहा- शाम की चाय तैयार है।

हम लोग बाहर आ गये और बाहर बालकनी में बैठ गये।
कैथी चाय और स्नैक्स लाई।

तपिश को रिचर्ड ने फोन किया और कहा कि मुझे प्रोजेक्ट का काम सिखाये और कुछ काम भी करने को दे।

रिचर्ड ने मुझे और निधि को कहा- अगले इतवार रिपोर्ट के लिये आना और कुछ इंडियन ट्रडिशनल खाना लेकर आना।
हम लोगों ने हां में सिर हिलाया।

फिर हम लोगों ने रिचर्ड को बाय किया और बाहर आ गए।

वहां वही दोपहर वाला गार्ड था और वो निधि को ऐसे देख रहा था कि वो उसे कच्चा खा जायेगा।
मैं और निधि कार में बैठ गए और कार पार्किंग से निकाल कर घर की और चल पड़े।

मैंने रास्ते में निधि से पूछा- वो गार्ड उसे ऐसे क्यों घूर रहा था?
तो निधि ने बताया- मैंने एक बार उसकी शिकायत रिचर्ड से करी थी इसलिए गार्ड मुझसे गुस्सा रहता है।

10 मिनट बाद हम घर पहुंच गये।
रास्ता बिल्कुल खाली था … बस कुछ पुलिस ही थी रास्ते में!

घर पहुंचकर मैंने देखा कि यश भी तपिश के यहां से आ चुका था।

मैंने मम्मी को अपना ज्वाइनिंग लेटर दिखाया।

मम्मी बहुत खुश हुई, उन्होंने कहा- ये सब तपिश की वजह से हुआ है।
मुझे मम्मी ने कहा- हमेशा तपिश की मदद करना और वो जो चाहे वो करना।
मैंने ओके कहा।

दोस्तो, अब इतना ही!
लड़को और लड़कियो, बताना कि यह जॉब सेक्स हॉट कहानी पढ़ते पढ़ते कितना पानी निकला।
तब तक के लिये विदा।
आपकी अपनी अंजलि
[email protected]

Leave a Comment

bfsex.video | porn videos | desi porn | desijimo